CoinSuvidha
CoinSuvidha

ATC कॉइन इंडियन क्रिप्टो जेम्स, 2 संघर्षपुर्ण वर्षो का सफर और भविष्य !

ATC कॉइन एक लम्बी रेस का घोडा हैं ! सुभाष जेवरिआ जी की क़ाबिलियत में अब कोई शंका नहीं !

0 139

ATC कॉइन इंडियन क्रिप्टो जेम्स, 2 संघर्षपुर्ण वर्षो का सफर और भविष्य !

ATC कॉइन एक लम्बी रेस का घोडा हैं ! सुभाष जेवरिआ जी की क़ाबिलियत में अब कोई शंका नहीं !

ATC कॉइन !

इसमें अब किसी भी तरह की कोई शंका नहीं है,  कि ATC कॉइन एक लम्बी रेस का घोडा हैं, ATC कॉइन जो की जेवरिआ ग्रुप के MD श्री सुभाष जेवरिआ जी ने बनाया है, ATC कॉइन अपने शुरूआती दौर में काफी सफल रहा हैं, ATC जिसमे कई निवेशकों ने चांदी काटी हैं, 1भारतीय रुपए में शुरू होने  क्रिप्टो कॉइन ने 120 रूपये तक का सफर बहुत ही कम समय में तय किया हैं, जो की एक रिकॉर्ड हैं, इतने कम समय में इतनी बढ़ी कामयाबी शायद किसी भी क्रिप्टो करेंसी में नहीं हो पायी हैं | कुल मिलाकर ATC कॉइन ने कई निवेशकों को मालामाल किया हैं और ये क्रमआज भी जारी हैं,आज जब के सभी क्रिप्टोकरेंसी अपने इतिहास के सबसे ठन्डे दौर से गुज़र रही हैं जिससे ATC कॉइन भी अछूता नहीं लेकिन फिर भी ATC कॉइन आज भी कई भारतीय निवेशकों की पहली पसंद बना हुआ है आज भी ATC कॉइन में निवेशकों का पैसा 5 से 7 गुना हो रहा हैं पिछले 6 महीनो का रिकॉर्ड अगर देखा जाये तो ATC कॉइन में ३ बार रैली देखने को मिली हैं और 5 बार टॉप गेनर्स की लिस्ट में यह शामिल हो चूका हैं |

 

सफलता बगैर क़ीमत के नहीं मिलती यह वास्तविकता ATC कॉइन पर पूर्ण रूप से सत्यापित होती हैं |और इसकी सफलता की कीमत कुछ बाद में आने वाले निवेशक और इस के MD को चुकानी पढ़ रही हैं | जिस तरह हर ऊपर जाने वाले पंछी को ज़मीं पर दाना चुगनेआना ही होता हैं ठीक उसी तरह ATCC जहा से शुरू हुआ वहीआकर फिर से आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा हैं | ATCC के डाउन फाल के लिए काफी सारि परिस्तिथिया ज़िम्मेदार हैं, जिसमे ग्लोबल मार्किट की मंदि और भारतीय रिज़र्व बैंक की बैंक डिपाजिट पाबन्दी भी शामिल हैं जिसकी वजह  निवेशकों का मार्ग अवरुद्ध हो गया  और काफी सरे निवेशकों को क्रिप्टो मार्किट में हानि उठानी पढ़ी | यही हाल अटक कॉइन धारको का भी हुआ | लेकिन ATCC के MD श्री सुभाष जेवरिया जी ने निवेशकों का हित ध्यान में रखते हुवे उनके नुकसान की खाना पूर्ति करने हेतु उन्हें अन्य टोकंस एयरड्रॉप के माध्यम से वितरित किये जिससे कही न कही उनके नुकसान की भरपाई हो सके और ATCC के विकास का मार्ग प्रशस्त हो सके | सुभाष जेवरिआ जी का ये कदम काफी सराहनीय कदम हैं |

आज  ATCC की कम्युनिटी पूरी तरह ATCC के साथ समर्पित रूप से खड़ी हैं और सुभाष जेवरिआ जी की काबिलियत और उनका अडिग विश्वास निश्चित ही इसे एक दिन नई ऊंचाइयों पर लेकर जाएंगा |

Leave a Reply